कारखाने की लडकी को चोदा

 हेल्लो दोस्तो, आज मैं आपको अपने कपडे बनाने वाले कारखाने के विषय में कुछ सुनाने के लिए जा रहा हूँ और जहा पर कुछ लडकिया भी कार्य करने के लिए आया करती थी | उन लडकियो से मेरी शानदार पहचान बन चुकी थी | जब उन लडकियो से मेरी पहचान बन गयी थी तो उन में से कुछ लडकियो को उस कारखाने पर चोदा था | चलो जानते है की मैंने कपडे के कारखाने में कार्य करने वाली कुछ लडकियो को कैसे चोदा था | मैं एक कपडे वाले कारखाने पर कार्य किया करता था | जब मैं एक कपडे वाली कारखाने पर कार्य किया करता था तब मुझे कारखाने पर कार्य करने वाले लोगो मुझे पहचानते थे | एक दिन एक लड़की ने मुझे उसके घर पर बुलाया था क्योकि उस लड़की का जन्म दिन था | जब मैं उस लड़की के घर पर पहुचा तो उस लड़की के घर पर मैंने देखा की कई लडकिया उसके घर पर है | इसके आलावा कारखाने के कई लोग उस लड़की के घर पर मौजूद थे |

अगले दिन मैंने उस लड़की से कहा की आपके घर पर जो पार्टी बनाई गयी थी वो लाजवाब थी | बात करने के दौरान मैंने उस लड़की से कहा की मुझे एक किराये के कमरे की आवस्यकता है | तब उस लड़की ने मुझ से कहा की मेरा मकान काफी बड़ा है | इसलिए अगर तुमको एक किराये का कमरा लेना है तो तुम मेरे घर की एक किराये वाला कमरा ले सकते हो | उस लड़की ने जब मुझे उनके घर पर एक किराये के कमरे पर रहने के लिए कहा तो मैंने उस लड़की से कहा की मैं तुम्हारे घर पर रहने के लिए तयार हूँ | कुछ महीने के बाद मैं उस लड़की के दिए हुए किराये के कमरे पर रहने लगा | वो लड़की उस कपडे वाले कारखाने पर रहती थी जिस कारखाने पर मैं कार्य किया करता था | उस लड़की के साथ ही मैं कपडे के कारखाने पर कार्य करने के लिए जाता था | उस लड़की का एक बड़ा भाई था और उसका बड़ा भाई मुझ पर भरोसा करता था | इसलिए उसके बड़े भाई ने मुझ से कहा था की तुम मेरी बहन के साथ तुम उस कपडे वाले कारखाने पर उसका ख्याल रखना | उसके बड़े भाई के ऐसा कहने पर मुझे एक अवसर मिल गया था की मैं उस लड़की से एक ऐसा सम्बन्द बना सकू जिसकी एक खास अहमियत हो |

एक दिन जब वो लड़की घर पर अकेली थी | तब मैं उस लड़की के घर के अन्दर बैठा हुआ था | उस दिन उस लड़की का भाई घर पर नही था | उस दिन मुझे एक ऐसा अवसर मिला था की मैं उस लड़की की चूत को आसानी से चोद सकता था | उसकी चुदाई करने का अवसर मुझे मिल गया था | उस दिन मैं उस लड़की के साथ उसके घर पर था | तब उस लड़की ने मुझे जीलेभी खाने के लिए दिया | उस लड़की की दी हुई जीलेभी को मैंने खाया था | फिर जीलेभी खाने के बाद मैंने उस लड़की को गले लगा लिया | इसके बाद मैंने उस लड़की के कपडे उतारने लगा | जब मैंने उस लड़की का कपड़ा उतार दिया | कपडे उतारने के बाद वो लड़की नंगी हो चुकी थी | तब उस लड़की से मैंने कहा की आज मैं तुम्हारी चुदाई करने वाला हूँ | फिर वो लड़की हसने लगी | उसके बाद फिर मैंने लड़की से कहा की क्या तुमने पहेले किसी लड़के से चुदवाया है | उस लड़की ने मुझे बताया की फिलहाल तो अभी तक किसी लड़के से नही चुदवाया | तुम ही आज पहले लड़के हो जिससे मैं आज चुदवाने के लिए जा रही हूँ | उस लड़की का पहला अनुभव था | मेरा भी पहला अनुभव था क्योकि अब तक मेरी जिन्दगी में कोई ऐसी लड़की नही आई थी जिसको की मैं चोद सकू |

उस दिन कपडे उतारने के बाद फिर मैंने उस लड़की की चूत के अन्दर अपने लंड को डाल दिया | कुछ देर तक मेरा लंड उसकी चूत के अन्दर घुस रहा था | फिर मेरा लंड मलाई की उलटी करने लगा | तब उस लड़की ने मुझ से कहा की तुम अब मुझे चोद चूका हो अगर मेरा बड़ा भाई आ गया तो तुम्हे वो पकड़ सकता है | फिर मैं उस लड़की के बड़े भाई के आने से पहले उस लड़की के घर से बाहर निकल आया | अगले दिन फिर मैंने उस लड़की से कहा की क्या तुम्हारा भाई घर से बाहर जाने वाले है | तब उसने मुझे बताया की नही मेरा बड़ा भाई कुछ महीनो तक छुट्टी पर रहेगा | मुझे लेकिन उस लड़की को चोदने का मौका नही मिलता था | क्योकि उसका बड़ा भाई छुट्टी की वजय से घर पर रहता था | इसलिए उस लड़की को मैंने कपडे के कारखाने पर चोदा था | उस लड़की को मैंने तब चोदा था जब वो कारखाने पर कार्य कर रही थी | छुट्टी के वजय से मैं उस लड़की की चुदाई मेरे घर पर और मेरे किराये के कमरे पर नही कर सकता था क्योकि उस लड़की का भाई घर पर रहा करता था | इसलिए जब मैं उस लड़की के साथ कारखाने पर कार्य कर रहा था तब मैंने उस लड़की के गाल को चूम लिया और फिर उस लड़की को मैंने तभी गले लगा लिया | लेकिन कारखाने पर कार्य करने वाला एक लड़का वहा पर आगया था | तभी मैंने उस लड़की से कहा की यहा पर तुम्हे चूमना मेरे लिए सरल नही है | इसलिए कभी किसी अन्य दिन मैं तुम्हारे गाल को चूम सकता हूँ |

मैं जिस कारखाने पर कार्य करता था वहा पर लोग उनका जन्मदिन बनाने के लिए तयार रहते थे और जन्मदिन के अवसर पर खर्चा भी किया करते थे | एक दिन उस लड़की के किसी छोटे भांजे का जन्मदिन था | मैं उस लड़के के जन्मदिन पर उस किराये का कमरा देने वाली लड़की के साथ उस लड़के का जन्मदिन बनाने के लिए गया हुआ था | उस लड़के के जन्मदिन के अवसर पर कई लोग उस लड़के के घर पर आये हुए थे | जब भोजन का समय हुआ तब मैं उस लड़की के साथ भोजन कर रहा था | पार्टी का भोजन जब चल रहा था तब मैं उस लड़की से रंगीली बात कर रहा था और वो लड़की मेरी बात सुनकर हस रही थी | फिर मैंने अपनी मोटरसाइकिल को चालू किया और वो लड़की मेरी मोटरसाइकिल पर बैठ गयी क्योकि तब घर लौटने का समय हो गया था और लड़की के भाई ने शाम होने से पहले घर लौटने के लिए कहा था | लेकिन घर लौटते समय मैंने उस लड़की के साथ काफी मस्ती किया | वो लड़की जब मेरी गाडी पर बैठी हुई तब मैं उस लड़की को गाडी पर बैठालकर छेड़ रहा था | उस दिन मैंने उस लड़की को अपनी गाडी से शहर के कुछ खास जगहो पर भी घुमाया | वो लड़की इतना खुस थी उस दिन जिसका कोई हिसाब नही लगाया जा सकता था | फिर मैंने उस लड़की को अपनी गाडी से घुमाने के बाद फिर उसके गाल की चुम्मा ले लिया | उस लड़की के गाल को चूमने के बाद फिर मैंने उस लड़की के दूद को दबाया | जब मैं उस लड़की के गाल और होट को चूम रहा था तब उस लड़की ने मुझ से कहा की आज तुम ऐसा नही करो क्योकि मेरे बड़े भाई ने शाम के समय तक घर पहुचने के लिए कहा है | अगर देरी हो गयी तो मेरा बड़ा भाई तुम्हे मेरे साथ घुमने की आजादी नही देगा | इसलिए ये महतवपूर्ण सलाह आज मैं तुम्हे दे रही हूँ की तुम आज समय से पहेले घर चलो |

अगले दिन मैं तुम्हारे साथ कही पर घुमने के लिए चलूंगी | फिर मैं उस लड़की को लेकर उसके घर पर पहुच गया | कुछ महीने बाद मुझे मालूम चला की उस लड़की को उसकी सहेली के घर पर पार्टी के लिए जाना है | उस लड़की की सहेली ने मुझे भी पार्टी में सामिल होने के लिए कहा था | तब उसके बड़े भाई ने मुझे उसकी बहन को लेकर पार्टी पर जाने के लिए कहा था | उसके बड़े भाई की दी हुई छुट का मैंने फायदा उठाया | मैं उस लड़की को लेकर पार्टी पर घुमाने के लिए ले कर गया हुआ था | उस लड़की की सहेली ने जो पार्टी दिया था वो काफी शानदार था | उस लड़की की सहेली का पार्टी का लुफ्त उठाते समय मैंने उस लड़की के गालो को चूमा | जब भी कभी पार्टी का समय आता था तब मुझे उस लड़की को चूमने का अवसर मिल जाता था | मैं पार्टी के दौरान उस लड़की की चूमा चाटी किया करता था | जब मैं उस लड़की की सहेली के घर उस लड़की को लेकर गया था तब मैंने वो किया जो मेरे लिए एक शानदार अनुभव बन गया था | घर के अन्दर पार्टी चल रही थी तब मैं उस लड़की को कही पर घुमाने के लिए ले कर गया हुआ था | उस लड़की के बड़े भाई को लगता था की मैं उसे पार्टी लेकर गया हूँ | लेकिन पार्टी जब चलती थी तब मैं उस लड़की को लेकर कही किसी अन्य जगह पर घुमा करता था | जब उस दिन पार्टी चल रही थी जो की उसकी सहेली की पार्टी थी तब मैं उस लड़की को लेकर एक गार्डन घुमाने लेकर गया हुआ था |

कुछ समय तक मैं उस लड़की को लेकर गार्डन का लुफ्त उठा रहा था | तभी उस समय लड़की का बड़ा भाई वहा से गुजर रहा था और उसने मुझे देख लिया | फिर वो मेरे पास आने लगा लेकिन उस समय उसकी बहन एक ठेले वाले के पास गई हुई थी | क्योकि उस लड़की को चैनीज़ खाने का सौक था इसलिए वो चैनीज़ वाले ठेले के पास चैनीज़ खा रही थी तभी उस लड़की का भाई मेरे पास आ गया था | उसके बड़े भाई ने फिर पूछा की उसकी बहन कहा है | तब मैंने उसके बड़े भाई को बताया की तुम्हारी बहन फिलहाल पार्टी का लुफ्त ले रही है | तब उस लड़की के भाई ने उसकी बहन को फोन लगाया | वो कुछ दूर पर चैनीज़ खा रही थी | तब उसके भाई के फोन पर उस लड़की ने उसके भाई को बताया की वो अभी फिलहाल पार्टी में है | उस दिन मैं पकड़ा जाता अगर वो लड़की मेरे साथ गार्डन पर रुकी हुई होती | मेरे लिए वो दिन एक बड़ी दुर्घटना जैसी होती अगर उसका बड़ा भाई मुझे उस लड़की के साथ गार्डन पर देख लेता | उस लड़की ने चेहरे पर कपडा पहना हुआ था और उसने उसके बड़े भाई को देखा था | कुछ समय के बाद उस लड़की का बड़ा भाई मुझे छोडकर चला गया | तब उस लड़की को मैंने फोन लगाया और फिर वो लड़की ऑटो पकडकर पार्टी पर पहुची और मैं मोटरसाइकिल से पार्टी पर पहुंचा |


Share on :