advertisement
advertisement
नंगी शादी और सामूहिक चुदाई
advertisement

advertisement
advertisement
HOT Free XXX Hindi Kahani

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम रोहित है और मेरी उम्र 19 साल है. ये कहानी एक साल पहले की है जिसमें 2 फेमिली है, एक मेरी और दूसरी हमारे फेमिली फ्रेंड प्रकाश अंकल की है. मेरी फेमिली में हम 5 लोग है में, मम्मी, पापा और दो बहनें, जो अभी पढ़ रही है और प्रकाश अंकल की फेमिली में 6 लोग है वो, उनकी वाईफ और 3 बेटे और एक बेटी, जो कि 19 साल की है और वो अभी पढ़ रही है. एक दिन प्रकाश अंकल और उनकी वाईफ हमारे घर आए, अब वो मेरे पापा और मम्मी से बात कर रहे थे. वो लोग कहीं बाहर जाने की प्लानिंग कर रहे थे, वो लोग छुट्टी मनाने ऊटी जाने का प्लान बनाकर रविवार को निकल गये. वो दोनों अंकल, आंटी और मेरे मम्मी, पापा और हम सब बच्चे अपने घर पर ही थे.

अब में आपको बता दूँ कि मेरी दोनों बहनों का नाम रीता और मीना है, वो दोनों जुड़वा है और बहुत सेक्सी है. वो 19 साल की कामुक लड़कियां है और प्रकाश अंकल के बेटे प्रीतम 21 साल, पिंटू 20 साल और सिंटू 19 साल के है. हमारे पापा मम्मी की तरह हम सब भी अच्छे दोस्त थे और बहुत बार मेरी दोनों बहने पूजा के पास जाया करती थी और हम भी प्रीतम और उसके भाइयों के साथ बाहर जाते थे. इस तरह जब हमारे पापा मम्मी ऊटी गये थे, तो हम लोग अपने एग्जॉम में व्यस्त थे और अचानक हमें एक शॉक लगा और पता चला कि रोड़ एक्सिडेंट में हमारे माता पिता की मौत हो गई है.

फिर हम सबने बहुत दुख से उन सभी का क्रियाकर्म किया. उस समय मेरे पास कुछ नहीं था, फिर में प्रीतम और उसके भाइयों के घर गया. फिर थोड़ी देर तक बात करने के बाद हमने फ़ैसला कर लिया कि हम सब साथ में रहेंगे. फिर में अपनी दोनों बहनों के साथ उनके घर चला गया और फिर हम एक साथ रहने लगे. फिर करीब 5 महीने के बाद हम सब घुल मिल गये और मस्त रहने लगे. अब प्रीतम और में बिज़नस किया करते और घर चलाया करते. फिर हमने सोचा कि अब हमें शादी कर लेनी चाहिए.

प्रीतम : क्या यार, अब हमारी शादी कैसे होगी?

में : हाँ यार, में भी यही सोच रहा हूँ.

प्रीतम : एक बात बोलूं.

में : हाँ बोल.

प्रीतम : मुझे तेरी बहन मीना बहुत पसंद है, क्या में उससे शादी कर सकता हूँ?

में : हाँ, मगर एक शर्त है.

प्रीतम : बोल.

Hot Japanese Girls Sex Videos
advertisement
ये हिंदी सेक्स कहानी आप HotSexStoriesPictures.Com पर पढ़ रहें हैं|

में : मुझे भी तेरी बहन बहुत पसंद है.

प्रीतम : ये तो खुशी की बात है चल आज ही मीटिंग करते है.

फिर घर आने के बाद हम सब डिनर टेबल पर बैठे और प्रीतम ने पूछा कि जिसको भी शादी करनी है वो हाथ उठाओ, तो सबने अपना हाथ उठाया और हम चौंक गये, तो मीना बोली कि लेकिन करेगें किससे?

में : देख हम सब जवान है और अलग-अलग फेमिली से बिलॉंग करते है, क्यों ना हम आपस में शादी कर ले?

तो सब राजी हो गये और अब सब खुश लग रहे थे, तो पिंटू ने कहा कि लेकिन एक प्रोब्लम है दोस्तों.

में : क्या?

पिंटू : हम 4 लड़के है और लड़कियां 3 ही है, कैसे शादी होगी?

प्रीतम : कुछ सोचो यार.

फिर हम एक फैसले पर आए कि मेरी बहन रीता के दो पति होगें, तो सब राजी हो गये.

अब हम सब शर्म छोड़ चुके थे और खुलकर बात कर रहे थे. फिर मैंने प्रीतम की बहन पूजा से कहा कि

advertisement
देसी हिंदी सेक्स वीडियो

क्या ख्याल है मेरी होने वाली पत्नी?

पूजा : हाए मेरे राजा आई लव यू.

फिर हम सब हंस पड़े, फिर हमने अगले दिन शादी का प्लान किया और सब खुश हो गये, क्योंकि सब हवस में पागल थे. फिर दूसरे दिन सभी लड़कियां साड़ी पहने थी और सब लड़के कुर्ता पजामा पहने थे, फिर मैंने कहा कि क्यों ना शादी एक नयी स्टाइल में की जाए?

प्रीतम : कैसे?

में : क्यों ना हम कम से कम कपड़ो में शादी करे?

सिंटू : अच्छा आईडिया है.

में : गर्ल्स सिर्फ़ ब्रा और पेंटी में और बॉय सिर्फ शॉर्ट्स पहनकर शादी करे.

पूजा : आईडिया अच्छा है.

फिर हम सबने अपने-अपने कपड़े उतारे और ड्रेस कोड में आ गये. अब मीना और रीता ने ब्लेक कलर की ब्रा और पेंटी पहनी थी और पूजा ने रेड कलर की ब्रा पेंटी पहनी थी और सभी बॉय ने ब्लू कलर की शॉर्ट पहनी हुई थी.

पूजा : लेकिन, हम शादी शुरू कैसे करे?

advertisement
Free Hot Sex Kahani

फिर हमने हॉल में सब गद्दे बिछाए और अब हम हार पहनाकर शादी कर रहे थे.

रीता : सिंदूर कहाँ है?

प्रीतम : हाँ, सिंदूर हम माँग में नहीं चूत में भरेंगे.

तो वो खुश हो गई और अब सब लेडीस अपनी पेंटी को साईड में करके खड़ी थी.

में : हम सिंदूर हाथ से नहीं लंड से भरेंगे.

तो सब राजी हो गये, फिर मैंने अपने 8 इंच के लंड पर सिंदूर लगाया और पूजा की नाज़ुक चूत पर सिंदूर लगाया. वही पिंटू और सिंटू ने मेरी बहन रीता की चूत पर सिंदूर लगाया और प्रीतम ने मीना की चूत पर अपना लंड लगाकर शादी कर ली थी. अब हम सब रोमांस कर रहे थे, अब में पूजा की ब्रा खोलकर उसके 19 साल के निपल चूस रहा था. अब वो बहुत सिसकियां मार रही थी, अब रीता पिंटू और सिंटू के साथ मज़े ले रही थी और प्रीतम मीना की चूत को चाट रहा था. अब में भी पूजा की चूत चाट रहा था. अब वो लाल हो गई थी और में उसकी चूत पर अपना लंड मसल रहा था और अब वो भी मेरा साथ दे रही थी.

फिर मैंने एक जोरदार धक्के के साथ पूजा की चूत में अपना लंड डाल दिया, तो वो चीख उठी और वहीँ मीना का भी यही हाल था और रीता भी एक लंड चूस रही थी और दूसरा लंड अपनी चूत में ले रही थी. इस तरह से हमने रात के तीन बजे तक चुदाई की और अब सब कई बार झड़ चुके थे. फिर सुबह 9 बजे मेरी आँख खुली तो मैंने देखा कि पूजा मेरी बाहों में सो रही है, मीना प्रीतम का लंड अपनी चूत में लिए सो रही हैं और रीता के दोनों साईड में सिंटू पिंटू सो रहे थे.

फिर मैंने सबको उठाया और कहा कि नहा लो, तो अब सब उठकर एक दूसरे को देख रहे थे और फिर सबने अपनी बीवियों को मॉर्निंग किस किया और बीवियों ने लंड मुँह में लेकर सबको ठीक से जगाया. अब सब कपल एक के बाद एक बाथरूम में जा कर चुदाई के साथ फ्रेश होकर कपड़े पहनकर बाहर आए और नाश्ता किया.

तभी पूजा ने कहा कि आज राखी है हम सब अच्छे से मनायेंगे, तो मैंने कहा कि अच्छा आइडिया है.

पिंटू : मगर हम राखी हाथ पर नहीं बांधेगे.

advertisement
कामुकता सेक्स स्टोरीज

रीता : फिर कहाँ?

सिंटू : सब बहने अपने भाइयों के लंड पर राखी बांधना.

में : मस्त आइडिया है.

अब सब राजी हो गये और भाई अपने लंड को खोलकर सोफे पर बैठ गये. अब पूजा आरती की थाली ला कर अपने भाइयों के लंड पर राखी बांध रही थी.

में : अपने भाइयों का मुँह मीठा करो.

पूजा : हाँ करुँगी ना अपनी चूत और निपल से.

अब ये सुनते ही प्रीतम पूजा का सलवार उतारकर उसके निपल्स चूस रहा था और यहाँ रीता और मीना मेरे लंड पर राखी बाँधकर मेरा लंड चूस रही थी. तभी रीता अपनी पेंटी खोलकर मेरे लंड पर बैठ गई, अब मुझे बहुत मजा आ रहा था. अब में मीना की चूत को चाट रहा था और वहीं पूजा भी प्रीतम का लंड अपनी चूत में लेकर उछल रही थी और सिंटू पिंटू का लंड चूस रही थी. अब सब भाई अपनी बहनों को शाम तक चोदकर थक गये और सो गये.

दोस्तों फिर एक दिन सिंटू और पिंटू किसी काम से बाहर गये हुए थे में और पूजा अपने रूम में नंगे सो रहे थे. मैंने अपना लंड पूजा की चूत पर लगाया हुआ था और प्रीतम भी रिया के साथ रूम में सो रहा था. तभी हमने देखा कि सिया मेरे रूम के पास आकर खड़ी हो गयी और वो उस समय सिर्फ़ पेंटी में ही थी तभी मैंने उसको आवाज़ दी वो मुस्कुराते हुए मेरे पास आ गई और किस करने लगी और पूजा ने उसकी पेंटी को खोल दिया और वो उसकी चूत में उंगली डाल रही थी. फिर सिया ने तुरंत मेरे लंड को अपने मुहं में लेकर खड़ा कर दिया, वो मेरे लंड को चूस चूसकर लाल कर रही थी और वो किसी अनुभवी रंडी की तरह मेरे लंडे को लोलीपॉप की तरह चूस रही थी.

पूजा : क्यों तुम्हे मेरे पति का लंड चूसने में मज़ा नहीं आया क्या?

सिया : अरे रांड क्या तू कभी चूसती नहीं क्या?

फ्री इरॉटिक सेक्स स्टोरीज
advertisement

दोस्तों उनकी बातें सुनकर सभी हंस पड़े और फिर मैंने पूजा को अपनी गोद में उठाया और अब में उसे प्रीतम के रूम में लेकर चला गया, लेकिन सिया भी हमारे पीछे पीछे आ गई और मैंने वहां पर पहुंचकर उससे कहा कि प्रीतम यह ले तेरी रंडी बहन को, तू चोद दे इसको. वो मेरी यह बात सुनकर बहुत खुश हुआ और पूजा के बूब्स को चूसने लगा.

में अब रिया को ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चोद रहा था और इस तरह हमारी चुदाई की दास्तान ऐसे ही चलती रही और हम हर दिन रात कभी भी जमकर चुदाई किया करते और अब दोस्तों हमारी शादी को पूरे 20 साल बीत गये है. पूजा को एक बेटा हुआ प्रीतम को दो बेटियां हुई और सिंटू, पिंटू को एक एक बेटा हुआ मेरे बेटे का नाम लव था. प्रीतम रिया की बेटियों के नाम लता और गीता था. हम लोग चुदाई उनके सामने नहीं किया करते थे और अब सभी बच्चे जवान हो गये थे.

फिर हम माता पिता जब कॉलेज गये थे तो हमने वहां पर एक मीटिंग की और अब बच्चो को इस खेल में कैसे मिलाया जाए, इस बारे में बात करने लगे? तो मैंने पूजा से पूछा कि बताओ तुम क्या कहती हो? तो पूजा मुझसे बोली कि हाँ ठीक है जैसा आप ठीक समझे, में इसमें क्या कह सकती हूँ?

प्रीतम : बच्चे कोई दूध के धुले भी नहीं है, चलो ठीक है.

फिर हमने सोचा कि कुछ नया हो जाए जिसमे हम सबको मज़ा आ जाए.

प्रीतम : मेरी दो बेटियां है जो अब जवान हो गई है उनका क्या होगा?

पिंटू : हाँ मेरा एक बेटा भी है जो अब जवान हो गया है.

में : हाँ मेरा भी तो एक बेटा है.

फिर हमने बच्चो की शादी करने के बारे में सोचा और अगले दिन बच्चो को बुला लिया दोस्तों में आप लोगों को बता दूं कि मेरे बेटे का नाम लव था और सिंटू पिंटू के बेटे का नाम गोरव था. हमने गोरव के लिए गीता और लव के लिए लता को पसंद किया था और फिर अगले दिन बच्चों को बुलाया और उनसे पूछा कि क्या तुम लोग शादी करना चाहते हो? और वो सभी यह शब्द सुनते ही एक दूसरे को देखने लगे और सबसे पहले लव ने हाँ भर दी और फिर गोरव भी हाँ कहकर मान गया और फिर लड़कियाँ भी कहाँ पीछे रहने वाली थी, वो भी हाँ बोलने लगी और हम सभी बहुत खुश हुए और उनसे आगे की बात बोलने लगे.

में : लव बताओ कि तुम्हे लता कैसी लगती है?

देसी चुदाई की कहानियाँ
advertisement

लव : हाँ अच्छी लगती है पापा, वो सुंदर होने के साथ साथ बहुत समझदार भी है.

में : हाँ बहुत अच्छा है.

पिंटू : बेटा तू बता अब तुझे गीता कैसी लगती है?

गोराव : जी पापा मुझे वो अच्छी लगती है.

फिर प्रीतम ने कहा कि आज में मेरी बेटियों की शादी करूंगा और सभी लोग उसके मुहं से यह बात सुनकर बहुत खुश हो गए. फिर पूजा, गीता और लता को एक कमरे में ले गई और उनके सारे कपड़े उतारकर वो उन्हें पेंटी, ब्रा पहनाकर बाहर ले आई, वाह क्या मस्त लग रही थी वो कच्ची कलियाँ, उनके छोटे छोटे बूब्स बहुत मस्त लग रहे थे. अब हमने भी गोरव और लव को नंगा करके सिर्फ़ शॉर्ट्स में खड़ा कर दिया, उन दोनों के लंड शॉर्ट्स में टेंट बन गये थे. अब वो आपस में एक दूसरों को माला डालकर खड़े हुए थे और फिर लड़कियों को पेंटी उतारने के लिए कहा गया, वो वैसे ही कर रही थी और लड़के अपने लंड को खोलकर लड़कियों की चूत पर सिंदूर लगा दिया और अब उनकी शादी हो गई, तब तक हम सब भी पूरे नंगे हो चुके थे और प्रीतम ने रिया को पकड़कर वो उसके बूब्स को मसल रहा था और में पूजा की चूत में लगातार उंगली डालकर अंदर बाहर कर रहा था और वहीं हमारे बच्चे फुल प्यार कर रहे थे, लड़कियाँ सिसकियाँ लेकर मज़ा ले रही थी.

अब गोरव ने गीता को अपनी गोद में उठा लिया और वो उसको किस कर रहा था और लव ने भी लता के निप्पल को लोलीपोप की तरह चाट चाटकर लाल कर दिया था और वो अब चूत को भी धीरे धीरे सहला रहा था. फिर गोरव ने गीता की चूत को चाटना शुरू किया वो सिसकियाँ ले रही थी. लव भी यही कर रहा था और यहाँ हम बैठकर बच्चो की चुदाई देख रहे थे और उन्हें चुदाई करना सिखा रहे थे. दोस्तों में अब पूजा की गांड में अपने लंड को डालकर ऊपर नीचे कर रहा था और प्रीतम पूजा की चूत चाट रहा था.

फिर गीता और लता ने लंड चूसना शुरू किया और फिर लड़कों ने उनकी कमर के नीचे तकिया रख दिया जिसकी वजह से चूत ऊपर की तरफ उठकर खुल गई और अब वो उनकी चूत पर लंड मसल रहे थे, तभी गोरव ने लव को आंख मारी और उन दोनों ने जोरदार झटके मारकर आधा लंड चूत में डाल दिया, दोनों भी ज़ोर से चिल्ला उठी और कुछ देर बाद वो शांत होकर फिर से चुदाई का मज़ा ले रही थी, उन दोनों के लंड के टोपे बड़े आकार के थे. सुबह 4 बजे तक चुदाई करने के बाद सभी लोग सो गए.

फिर अगले दिन पूजा ने कहा कि आज कुछ नया हो जाए और उसकी बात को सुनकर सभी लोग ख़ुशी ख़ुशी मान गए और फिर उसने कहा कि आज हम आशीर्वाद का प्रोग्राम रखते है जिसमें गीता और लता को प्रीतम, सिंटू, पिंटू के लंड को चूस चूसकर उनका माल निकालना होगा. सभी लोग मान गए और अपना लंड खोलकर बैठ गये. अब लता मेरे लंड को मुहं में लेकर चूस रही थी, वाह क्या मज़ा आ रहा था. फिर वो सिंटू का भी लंड अपने मुहं में ले रही थी और वो लंड को लोलीपोप की तरह बहुत मज़ा लेकर चूस रही थी. कुछ देर चूसने के बाद वो झड़ गए और उन्होंने अपना गरम गरम लावा पूरा मुहं में भर दिया और बड़े मज़े से लंड को चाट चाटकर साफ भी किया.

फिर दोस्तों इस तरह हमारे बच्चो की भी शादी हो गई, जिसमें हम सभी ने बहुत मज़े किए और साथ साथ अपने बच्चो को सेक्स करने के नए नए तरीके भी बताए.

advertisement

advertisement
advertisement
advertisement
advertisement
advertisement
advertisement
advertisement