प्रीति ने चुदाई का मौका दिया

हाय! मैं हरियाणा से हूँ. और आपको मेरी स्टोरीज पसंद आ रही है, उसके लिए थैंक यु. मेरी उम्र २२ साल है और मेरे लंड का साइज़ ७ इंच है. और में दिखने में भी हन्डसम हूँ. और अब सीधे मैं अपनी स्टोरी पर आता हूँ. यह बात तब की है जब मेरे एग्जाम चल रहे थे. प्रीती मेरे पड़ोस में ही रहती थी. उसकी और मेरी फॅमिली की बोन्डिंग काफी अच्छी थी. मैं और प्रीती भी अच्छे दोस्त है. वो दिखने में बहुत सुंदर है. उसका फिगर ३४- ३२- ३६ है.

यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप www.HindiSexStoriesPictures.Com पर पढ़ रहे हैं

देसी हिंदी अन्तर्वासना सेक्स कहानी पढ़े।

मुझे सब से जयादा उसके बूब्स पसंद है, हम दोनों काफी क्लोज थे एक दुसरे के, कभी कभी हम दोनों एक दुसरे के घर भी सो जाते थे. हमारे एग्जाम चल रहे थे इसलिए मैं और प्रीती साथ पढ़ते थे वो भी प्रीति के घर पर.

एक दिन जब मैं उसके घर पढने गया तो वो सफाई कर रही थी. उसने मुझे कहा तू थोड़ी देर बैठ, तो मैं सोफे पर बैठ गया. वो झाडू लगते हुए मेरे पास आई, वो झुकी हुई थी तो उसके बूब्स मुझे उसके कुरते में से साफ़ नज़र आ रहे थे, उसने ब्रा भी नही पहनी थी. मैंने अपना ध्यान हटाने की बहुत कोशिश की, पर नही हटा सका. मैं उसके बूब्स देखता ही रहा.

मेरा लंड खड़ा हो रहा था, मन कर रहा था के उसे चोद  दू, पर अपने आप पर काबू रखा, सफाई करने के बाद हम पढने बैठे. मैं उससे चिपक कर ही बैठा था, एक दो बार मैंने उसके बूब्स को टच भी कर लिया पर उसने कुछ नहीं कहा, हम पढ़ते रहे. शाम को जब मैं पढ़ कर घर आया तो वो ही सीन मेरी आँखों के सामने बार बार आ रहा था.

मैंने उस रात दो बार मुठ मारी, मैं प्लान करने लगा कैसे उसे चोदु, मैं उसके बूब्स देखने का कोई चांस नहीं जाने देता था. खैर दिन निकलते गए और हमारा लास्ट एग्जाम आ गया, तभी मेरी और प्रीती की फॅमिली को बाहर जाना पड़ा किसी फंक्शन में २ दिन के लिए.

प्रॉब्लम यह थी के हमे घर पर रहना पड़ता अकेले क्यूंकि हमारे एग्जाम थे तो घर वालो ने बोल दिया की प्रीती को कि वो मेरे साथ ही रहे. मैं तो ख़ुशी के मारे नाच रहा था, मेरी विश पूरी होने वाली थी. अब मुझे रात का इंतज़ार था, गर्मियों के दिन थे, तो प्रीती ने कहा की नहा लो फिर सो जाते है. मैंने कहा की पहले तुम नहा लो, वो बोली ठीक है.

वो नहाने चली गयी, मैं वेट करने लगा. जैसे ही वो नहा के बाहर आई उसने  मुझे नहाने को कहा, मैं बाथरूम में गया, वहां उसकी ब्रा पेंटी टंगी हुई थी. उसकी पेंटी में से बहुत ही प्यारी स्मेल आ रही थी, मैंने उसके नाम की मुठ मारी और आ गया सोने के लिए. लाइट ऑफ कर दी और हमने कुछ बाते की और फिर वो सो गयी.

थोड़ी देर बाद मैंने उसे हिलाया तो कन्फर्म हो गया कि वो सो रही है, तो मैंने अपना हाथ उसके बूब्स पर रखा और हल्का हल्का प्रेस करने लगा, मेरा लंड खड़ा हो रहा था. बहुत मज़ा आ रहा था मुझे. वो नींद में मोअन कर रही थी, उसकी आवाज़ सुन कर मैं जोश में आ गया और गलती से उसके बूब्स जोर से दबा दिए और वो उठ गयी और मुझे गुस्से से देख रही थी.

ये हिंदी सेक्स कहानी आप HotSexStoriesPictures.Com पर पढ़ रहें हैं|

प्रीती- यह तू क्या कर रहा है?

मैं- कुछ नहीं नींद में गलती से हो गया.

प्रीती- सच बोल…

मैं- मैंने हिम्मत कर के बोला के तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो. और मैं तुम्हे प्यार करना चाहता हूँ.

प्रीती- तू पागल है?

मैं- मैं सच कह रहा हूँ… बस एक बार मौका तो दे.

हिंदी पोर्न वीडियो & सेक्स मूवीज

प्रीति- अगर किसी को पता चल गया तो?

मैं- न मैं किसी को बतायुन्गा और न तू किसी को बताएगी तो कैसे पता चलेगा किसी को.

उसने मुझे एक प्यारी सी स्माइल दी और आँख मरी, मुझे ग्रीन सिग्नल मिल गया, मैंने भी उसे पकड़ लिया और उसे किस करने लगा. १५- २० मिनट तक किस करते रहे और बिच- बिच में मैं उसके बूब्स दबा रहा था, हम दोनों गरम हो चुके थे.

मैं- मुझे तुम्हारे बूब्स देखने है.

प्रीती- खुद ही देख ले.

इस स्टोरी को मेरी सेक्सी आवाज में सुनने के लिए यहाँ क्लिक करें.

और मैंने उसका कुरता उतार दिया, और उसके बूब्स को चूसने लगा, वो सेक्सी आवाज़ निकाल रही थी अह्ह्ह्ह….. अह्ह्ह्ह….. कुछ देर बाद मैंने उसकी सलवार भी उतार दी. उसकी चूत एक दम क्लीन शेव थी. मैंने उसकी चूत को चाटना शुरू किया. वो पागल हुए जा रही थी, कुछ देर बाद मैंने उसे लंड चूसने को कहा तो उसने मना कर दिया, बहुत कहने पर वो मान गयी. उसने लंड मुह में लिया, वो लंड बहुत अच्छे से चूस रही थी. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.

कुछ देर बाद वो बोली अब देर न करो, मैंने उसे लिटाया उसकी चूत पर अपना लंड रखा और एक धक्का मारा तो वो चिल्लाने लगी. और बोली धीरे से करो…. मैंने दूसरा धक्का मारा और पूरा लंड अंदर चला गया. वो रो रही थी, मैंने उसे किस करने लगा और उसके बूब्स सहलाने लगा.

वो थोड़ी देर में नार्मल हो गयी तो मैंने अपनी स्पीड बधाई और उसे चोदने लगा. वो अह्ह्ह्ह…. अह्ह्ह…. किये जा रही थी, कुछ देर बाद हम ने पोजीशन चेंज की और मैंने उसे घोड़ी बनने को कहा. उसने वैसा ही किया और मैंने उसे फिर से चोदना शुरू किया.

प्रीती- अह्ह्ह….. येह….. ओह्ह्ह्हह….. ओऊ…. फक मी ….

मुझे उसकी आवाज़े सुन कर और जोश आ रहा था और मैंने अपनी स्पीड और भी बढा दी, मुझे पता लग गया था की मैं अब झड़ने वाला हूँ तो मैंने अपना लंड निकाला और उसने अपने मुह में ले लिया और थोड़ी देर में वो भी  झड गयी. और अपना सारा स्पर्म उसके मुह में छोड़ दिया और वो सारा पी गयी.

ये हिंदी सेक्स कहानी आप HotSexStoriesPictures.Com पर पढ़ रहें हैं|

हम ने फिर एक दुसरे को किस किया. वो बहुत खुश नज़र आ रही थी, उसने मुझे इसके लिए थैंक यु कहा, फिर हम दोनों एक दुसरे की बाहों में सो गए किस करते हुए, बिना कपड़ो के.

हम ने बहुत सारी पोजीशन ट्राई करी और अगले २ दिन बहुत मजे किया, उसके थोड़े टाइम बाद वो बाहर चली गयी हायर स्टडीज के लिए

यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप www.HindiSexStoriesPictures.Com पर पढ़ रहे हैं

अगर आपको मेरी दोस्त के साथ मेरी चुदाई की यह स्टोरी पसंद आई हो तो प्लीज मुझे कमेंट्स भेजे….