फेसबुक वाली आंटी की चुदाई

हेलो दोस्तों, सॉरी इस बार मैं काफी टाइम बाद वापस आया हु…. क्या करू, कोई इंसिडेंट हुआ ही नहीं. मैं पिछले दिनों अपने काम में बहुत बिजी था. अब कुछ इंसिडेंट हुआ है. तो मैं आप लोगो के पास वापस आया हु, अपना इंसिडेंट शेयर करने के लिए. तो चलो अब स्टोरी पर चलते है.

यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप www.HindiSexStoriesPictures.Com पर पढ़ रहे हैं

देसी हिंदी अन्तर्वासना सेक्स कहानी पढ़े।

तो हुआ यू कि.. अब मैं काम से थोडा फ्री हो गया था. तो ऍफ़बी पर अपडेट रहने लगा. तो अचानक मेरे सजेशन में एक लड़की का नाम दिखा. नाम ही इतना मस्त था, कि उस से बात करने कि इच्छा हो रही थी. मैंने उसको फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज दी और डायरेक्ट मेसेज भेज दिया. वैसे उसका नाम दिशा था. करीब २ घंटे बाद रिप्लाई आया, कि हु आर यू? आई रेपलिए, दिस इज हिरेन हियर. वो बोली ठीक है. फिर नो रेस्पोंस. मैंने सोचा, क्या यार! ये लड़की इंटरेस्ट नहीं ले रही है बात करने में. फिर मैंने १ हफ्ते बाद, मैंने उसको मेसेज भेजा.. “हाउ आर यू?” उसने भी रिप्लाई कर दिया, अभी तक तो ठीक नहीं थी. लेकिन तुम्हारे समस के बाद फाइन हो गयी. मैं थोडा खुश हो गया.

फिर ऐसे ही हम लोगो की बात शुरू हो गयी. उसने बोला, कि वैसे मैं गुज्जू हु और मैं कोल्कता में ही बड़ी हुई हु. मैंने स्टडी भी वहीँ से की है. लेकिन अब मैं फॅमिली के साथ गुजरात शिफ्ट हो गयी हु और इसी वजह से वहां मेरा कोई दोस्त भी नहीं है. वो अलोन फील कर रही थी. तो मैंने तुरंत ही पूछ लिया, कैन वी बिकम फ्रेंड्स? उसने हाँ बोल दिया, मैंने तो एकदम से खुश हो गया. फिर हम रेगुलर बातें करने लगे और क्लोज फ्रेंड बन गए और सब पर्सनल बातें भी शेयर करने लगे. एक दिन उसने मुझसे पूछा, कि तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है? मैंने बोला – गर्लफ्रेंड होती, तो मैं तेरे साथ थोड़ी बातें करता इतनी देर तक. वो बोली – ठीक है. मैंने भी उसको पूछा, तेरा कोई बॉयफ्रेंड है? वो बोली – दोस्त तो है नहीं, बॉयफ्रेंड कहाँ से होगा? मैंने बोला, ठीक है और मन ही मन में सोचा, कि चलो अपना चांस बन सकता है.

उसका लुक एवरेज है और साइज़ ३४ – ३० – ३२ है. माल लगती है. फिगर से एकदम मस्त. फिर एक दिन दोपहर में हम बातें कर रहे थे, तो मैंने फ़्लर्ट स्टार्ट किया. मैंने उसको बोला, यू लुक गॉर्जियस एंड जिसे तुम मिल जाओगी. उसको और क्या चाहिए होगा! वो बोली, मजाक मत करो. सच बता. मैं बोला, सच ही बोल रहा हु. तुम मुझे पसंद हो… वो बोली, चलो मिलते है. मैंने भी हाँ कर दी, क्योंकि हम नजदीक ही मिल सकते थे. तो मैंने नेक्स्ट डे मिलने का डीसाइड किया.

फिर हम ये सोच में पड़ गए, कि हम मिलेंगे कहाँ? क्योंकि मुझे तो कुछ करना था, जोकि पब्लिक प्लेस पर नहीं हो सकता था. फिर मैंने उसको पूछा, कहाँ मिल सकती हो? वो बोली, यहाँ के बारे में ज्यादा नहीं मालूम. इसलिए तुम ही बोलो, हम कहाँ पर मिल सकते है? मैं बोला, कि किसी होटल में चलते है. वहां आराम से बात कर सकते है. कोई डिसटर्ब भी नहीं करेगा. वो बोली, सिक्योर प्लेस है ना. मैं बोला, हाँ एकदम सिक्योर है. वो बोली, ठीक है. कल तुम मुझे पिक कर लेना ३ बजे दोपहर में. मैंने बोला, ठीक है. और मैं नेक्स्ट डे २:४५ पीएम् उसको लेने के लिए पहुच गया. वो आई और हम दोनों होटल के लिए निकल गए. होटल पहुच कर हम रूम में गए….

फिर मैंने उसको डायरेक्ट हग किया, तो वो भी बोली, अरे इतनी जल्दी क्या है? पहले आराम से कुछ बातें तो कर लो. मैं बोला, ठीक है. फिर हम बातें करने लगे. हम वहां पर टीवी भी देख रहे थे. टीवी में किसिंग सीन आया, तो मैं थोडा सा एक्साइट हो गया और उसके सामने देखा, तो वो शर्मा गयी. वो शर्म से नीचे देखने लगी. फिर मैंने उसका हाथ अपने हाथ में ले लिया. और बोला, तुम कितनी अच्छी लग रही हो. तुम मुझे बहुत पसंद हो. उसने कहा, मुझे भी तुम बहुत पसंद हो. फिर मैंने तुरंत उसके चीक पर किस कर दिया. उसने भी एक बहुत सेक्सी सी स्माइल दे दी. फिर मैंने आगे बढ़ते हुए, उसके लिप्स पर किस कि और उसे मैंने किस करते हुए उसके उप्पर आ गया. कोई १५ मिनट तक हम ने किस किया होगा. और फिर मैंने उसका राईट बूब प्रेस करना स्टार्ट कर दिया था.

वो गरम हो गयी थी. पुरे जोश में आ गयी थी. वो बोल रही थी अहहाह अहहाह हाहाहा…. ईस्स्स्स… और दबाओ ना, जोर से दबाओ… आआहहः ह्ह्ह्हह… फिर मैंने उसका टॉप निकाल दिया. उसने ब्लैक ब्रा पहनी थी. फीर मैंने ब्रा की ऊपर से ही उसके बूब्स को दबाना शुरू कर दिया. कुछ देर करने के बाद, मैंने उसके बूब पर ब्रा के ऊपर ही मुह रख दिया और जोर से काट लिया. वो चिल्लाई.. आआहहहह… धीरे करो. मैंने ब्रा को रिमूव कर दिया और देखा कि, उसके निप्पल एकदम टाइट हो चुके थे. अब मेरे लंड ने भी सलामी देना शुरू कर दिया था. उसने मेरे शर्ट के बटन खोले और पेंट भी निकाल दी. मुझे लग रहा था, कि वो मुझे सेक्स के लिए इनवाईट कर रही थी. मैंने भी उसकी जीन्स को निकाल दिया और पेंटी भी. अब हम दोनों पुरे न्यूड थे.

फिर मैंने उसके पुसी को फिंगर से रगडा और वो अहहाह अहः अहः उफ्फ्फफ्फ्फ़ कर के मोअनिंग कर रही थी और मैं उसके बूब्स चूस रहा था. फिर मैंने अपना पेनिस उसके हाथ में दे दिया और वो बोली – आह्हह, कितना बड़ा है. बहुत दर्द होगा मुझे. मैंने बोला, जानेमन कुछ नहीं होगा. मैं हु ना. आराम से करूँगा सब कुछ. फिर उसने एक सेक्सी सी स्माइल दे दी. मैंने उसको बोला, मुह में ले लो इसको और चुसो. ताकि सेक्स में मजा आये. वो मना करने लगी थी, कि मुझे ये सब पसंद नहीं है. मैंने बोला, कोई बात नहीं. एक बार ट्राई तो कर के देखो. उसने बोला – ओके.

ये हिंदी सेक्स कहानी आप HotSexStoriesPictures.Com पर पढ़ रहें हैं|

फिर उसने पहले अपनी टंग को टच किया. उसको अच्छा लगा. फिर उसने चुसना शुरू किया. उसने कोई करीब २० मिनट तक मेरा लंड चूसा होगा. फिर मेरा निकलने वाला था. तो मैंने उसको बोला, रुक जा, मेरे निकलने वाला है. फिर मैंने अपने लंड को बाहर निकाल कर अपना माल उसके बूब्स पर डाल दिया. फिर हम ऐसे ही सोये गए ५ मिनट. फिर उसने पेनिस हाथ में ले कर हिलाना शुरू किया और वो फिर से खड़ा हो गया.

फिर मैं उसके ऊपर आ गया और पेनिस डाला. लेकिन उसकी पुसी टाइट थी. लंड जा ही नहीं रहा था अन्दर. मैंने फिर से कोशिश की, तो थोडा अन्दर गया. लेकिन वो चिल्लाने लगी. मैंने रुका थोड़ी देर के लिए. फिर एक ही झटके में मैंने पूरा डाल दिया अन्दर. मैंने उसको किस करने लगा, ताकि वो ज्यादा ना चिल्ला सके. फिर धीरे – धीरे धक्का देने लगा. फॉर वो भी साथ दे रही थी. उसे भी मजा आने लगा था. पूरा रूम उसकी आवाज़ से गूंज रहा था अहः अहहः अहहाह इसिसिसिस करो… और जोर से करो.. बोल रही थी. करीब १५ मिनट के बाद मैं झड़ गया. इतने में वो भी झड गयी. फिर हम दोनों साथ में नहाने गए और इस तरह से हम दोनों ने बहुत एन्जॉय किया.

यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप www.HindiSexStoriesPictures.Com पर पढ़ रहे हैं

दोस्तों, आप ने मुझे मेरी पहली स्टोरी में भी अच्छे कमेंट दिए थे. इस स्टोरी में भी अच्छे कमेंट दोगे, ये मैं आप लोगो से आशा करता हु.