चूत का स्वाद है लाजवाब

हाय दोस्तो | चलो आज मै आपको अपने छोटे भाई की सच्ची कहानी सुना रहा हूँ | मेरे मामा एक सभ्य बन्दे है लेकिन उनके लड़के ने उनके उपर कीचड़ उछालने वाली हरकत किया था | मुझे मामा के सबसे छोटे लड़के से ऐसी उम्मीद नही थी | मै जब अपना शहर छोड़ कर आया था मेरे दादा के शहर पर कार्य की वजय से तो आने से पहेले छोटे भाई को चेतावनी भी देकर आया था | मेरा छोटा भाई वैसे तो बदल चूका है लेकिन अगर उसने कोई ऐसी हरकत किया तो इससे मेरे मामा की बदनामी हो सकती है | बदनामी के डर से मैंने छोटे भाई को सलाह दिया था | उस छोटे भाई का कारनामा बिलकुल भी सहन करने योग्य नही था क्योकि उसने एक ऐसा कारनामा को अंजाम दिया था जो कभी कोई बेटा उसकी मा के लिए नही करता है | मेरा छोटा भाई मतलब मेरे मामा का लड़का मेरी मामी को चोद रहा था | लेकिन इस दुनिया में आजकल ऐसा चल रहा है | कुछ लोग उसकी मा को चोदते समय पकड़ा जाते है और कुछ लोग पकड में नही आते है | आप लोगो से गुजारिस है की आप आपके जीवन में ऐसा कुछ नही करना क्योकि इससे आपके घर और आपके परिचित वालो की बदनामी होती है | इस तरह की बदनामी से बचना है तो आप कभी भी आपकी मा को नही चोदना |

भले मेरा छोटे भाई ने उसकी मा को चोदा था लेकिन फिलहाल मेरे डर से वो अब ऐसा नही करता है | इसके आलावा वो अब बदनामी से भी डरता है | उसका डरना लाजमी भी है क्योकि वो घर का छोटा लड़का है और उसकी बदनामी मतलब उसके पुरे घरवालो की बदनामी | बदनामी को छिपाने का कोई उपाय नही है अगर कोई उपाय है तो समय | क्योकि समय गुजरने पर बदनामी भी चली जाती है | इसलिए समय पुराने जखम को भरने में सहायक होता है | चलिए अब जानते है की मेरा छोटा भाई क्या किया करता था | मेरा छोटा भाई जो की मेरे मामा का लड़का था वो रोजाना उसकी मा मतलब मेरी मामी को चोदा करता था | मुझे एक दिन उसकी इस हरकत के विषय में मालूम चल गया | वो जब उसकी मा को चोद रहा था तब मै उसकी इस हरकत को खिड़की से देख रहा था | मेरे छोटा भाई एक बार पुणे गया हुआ था वो वहा पर पुणे में रहा करता था | पुणे में रहने के कारण वो वहा के लड़के की संगत के कारण उसमे किसी को भी चोदने की परवर्ती आगई होगी | वो पुणे एक रिस्तेदार के घर घुमने के लिए गया था | पुणे में उसका एक मित्र रहता है जो  लडकियो में रूचि लेता था | बाकि के कार्य छोडकर उसका पुणे वाला मित्र सिर्फ लडकियो में अक्सर रूचि लेता था | मै एक बार पुणे गया हुआ था वहा पर मुझे उसका पुणे वाला मित्र मिला था |

पुणे में उस लड़के का घर है | मेरे मामा के लड़के ने मुझे उसके घर पर रुकने के लिए कहा था जब मै पहेली बार पुणे गया हुआ था | पुणे की खूबसूरती लाजवाब है | पुणे में बड़े पर्वत और जंगल है जो इसकी सुन्दरता को चार चांद लगाते है | पुणे घुमने के लिहाज से एक शानदार जगह है | मेरे छोटे भाई के पुणे वाले मित्र के घर पर कोई नही रहता था वो अकेला घर पर रहता था | उस पुणे वाले लड़के के मा और पापा किसी अन्य शहर पर रहते थे | लेकिन वो और उसका एक छोटा भाई रहा करता था | लेकिन उस पुणे वाले मित्र का छोटा भाई कही बाहर चला गया था इसलिए मै उस पुणे वाले लड़के के साथ घर पर रहा करता था | कुछ दिन के बाद मेरे मामा का लड़का भी पुणे रहने के लिए आ गया था | एक दिन जब मै और मामा का लड़का घर पर थे तब उस पुणे वाले लड़के ने एक लड़की को उसके घर पर लाया था | उस लड़के ने मुझ से और मामा के लड़के से कहा की अगर आप लोगो को चुदाई दखना है तो आप लोग चुदाई देख सकते हो | लेकिन आप लोगो को कमरे के अन्दर छिपकर रहना पड़ेगा | उस समय मै उस लड़के के विषय में कुछ नही मालूम था | मै और मामा का लड़का कमरे के अन्दर छिप गए | फिर कुछ समय के बाद जो हुआ उसे देखकर आप चकित रह गया | वो लड़का ने अपने बदन को खोल दिया और वो लड़का नंगा हो चूका था | फिर उसकी गर्लफ्रेंड उसके बिस्तर पर बैठ गयी | वो उसकी गर्लफ्रेंड के सामने नंगा हो कर खड़ा था | फिर कुछ समय के बाद उस लड़के ने उसकी गर्लफ्रेंड को उसका मुह खोलने के लिया कहा | फिर उस लड़के ने अपना लंड उस लड़की के मुह के अन्दर घुसेड दिया | कुछ समय तक उस लड़की ने उसका लंड चूसा |

लंड चुसाई के बाद उस लड़के ने फिर उसकी गर्लफ्रेंड के होटो को चूमना शुरु कर दिया | होटो को चूमने चलता रहा | फिर उस लड़के ने उस लड़की के सलवार को ऊपर उठाया और उस लड़की के दूद को दबाने के लिए ऐसा किया था | इसके बाद उस लड़के ने फिर उस लड़की के दूद को दबाना शुरु कर दिया | उस लड़की के दूद मोटे और बड़े थे इसलिए वो लड़का कुछ समय तक उस लड़की के दूद को दबाने में काफी समय तक व्यस्त था | कुछ देर बाद उस लड़की ने कहा की सिर्फ तुम मेरे दूद को दबाओगे | फिर उस लड़के ने कहा की रुक तो मेरी जान मै तेरी चूत का दीवाना हूँ इसलिए पहेले तेरे दूद को दबा लू फिर मै तेरी चूत को रगड़ना शुरु करूँगा | उस लड़के ने कहा की तू आज आई हुई है इसलिए मै आज बिना रुके तुझे चोदुंगा | फिलहाल तू सब्र कर ले वर्ना जब मै चुदाई शुरु करूँगा तब तुझे आराम करने नही दूंगा | चुदाई करने के दौरान मै उस लड़के की बात सुनकर हस रहा था | चुदाई भी चल रही थी और वो लड़का उसकी गर्लफ्रेंड बात भी कर रहे थे | फिर उस लड़के ने उसकी गर्लफ्रेंड की पजामा को निचे किया | उस लड़के ने फिर उसकी गर्लफ्रेंड की पजामा को सुंघा और कहने लगा की तुम्हारे पजामा से खुस्भु आ रही है | फिर उस लड़के ने उसकी मुण्डी को उसकी चूत के अन्दर घुसेड दिया | ऐसा करने के बाद फिर वो लड़का उसकी चड्डी को सूंघने लगा और कहने लगा तुम्हारी चड्डी से भी खुस्भु आ रही है | कुछ समय के बाद फिर उस लड़के ने उस लड़की की चड्डी को निचे उतार दिया | चड्डी निचे उतर चुकी थी और फिर वो लड़का उसकी चूत को अपने जीब से चाटने लगा | कुछ समय तक वो लड़का उसकी चूत को अपने जीब से चाटता रहा | फिर उस लड़के के लंड से मलाई की नदिया बहना शुरु हो गयी जब उस लड़की के लंड से मलाई की बरसात हो रही थी तब उस लड़के ने उस लड़की से कहा की अगर तुमको प्यास लग रही हो तो तुम मेरे लंड से निकल रही मलाई से तुमारा प्यास भुजा सकती हो | वो लड़की हसने लगी |

मुझे उस लड़के की बात सुनकर हसी आ गई और मेरी हसी की आवाज उस लड़की ने सुन ली | उस लड़की ने उसके बॉयफ्रेंड से कहा की कोई कमरे के अन्दर है | तब उस लड़के ने बताया की कोई भी कमरे के अन्दर नही | हसने की आवाज कमरे के बाहर से आई है | फिर उस लड़की ने उस लड़के पर भरोसा किया और उस लड़के के साथ रासलीला में व्यस्त हो गयी | फिर उस लड़के ने उसकी चूत के अन्दर उसके लंड को घुसेड़ा और जब उस लड़के ने उसका लंड उसकी चूत के अन्दर डाला हुआ था तब वो लड़का जोर जोर से आह आह कह रहा था | जब वो लड़का उसकी चूत के अन्दर अपना लंड डालकर आह आह कह रहा था तब उस लड़की ने कहा की तुम जोर से आह आह कहना छोड़ दो | वर्ना अगर कोई बाहर हुआ तो उसे मालूम चल जायेगा की कमरे के अन्दर चुदाई चल रही है | उस लड़की से फिर उस लड़के ने कहा की अरे मेरी जान तो फिक्र क्यो करती है मेरे घर पर कोई नही आ सकता है क्योकि तेरी चुदाई करने के लिए मैंने दरवाजा को बन्द करके रखा है | दरवाजा बन्द होने की वजय से अगर कोई बाहर भी हुआ तो वो घर के अन्दर घुस नही सकता है | आज तो फिलहाल तू और मै घर पर है इसलिए मुझे कोई डर नही है | इसलिए तू भी डरना छोड़ दे | काफी समय तक चली चुदाई और उस दौरान चल रही बात से मुझे काफी हसी आ रही थी | जब वो पुणे वाला लड़का उस लड़की को चोद रहा था | तब मै उसे देख कर हस रहा था | फिर उस लड़के ने जब उस लड़की से काफी चुदाई कर चूका था तब वो लोग कमरे से बाहर निकलने के लिए कपडे पहनने लगे | तभी उस लड़की ने मुझे देखा और उस लड़के से कहने लगी की कोई छीपा हुआ है | तब उस लड़के ने सम्भालते हुए कहा की कमरे पर कोई नही है | फिर वो लड़का उस लड़की को लेकर कमरे से बाहर निकल गया | कुछ महीने के बाद वो पुणे वाला लड़का किसी अन्य लड़की को लेकर एक दिन मुझे घूमते हुए दिखा | मेरे मामा का लड़का भी उस लड़की को पहचानता था |

एक दिन मै उस पुणे वाले लड़के और मामा के लड़के की हरकत को देखकर चौक गया | चलो मै सुनाता हूँ की एक दिन घर पर क्या हुआ | पुणे वाला मित्र और मेरा मामा का लड़का घर पर था तब एक लड़की घर पर आई हुई थी | वो लड़की मुझ से मिली और उस लड़की से मेरी पहचान हो गयी | असलियत तो ये थी की उस लड़की का बॉयफ्रेंड न केवल वो पुणे वाला मित्र था बल्कि मेरे मामा का लड़का भी था | एक दिन जब मै घर पर था तब वो लड़की घर पर आई हुई थी | मै एक कमरे के अन्दर पर बैठा हुआ था | तब वो लड़की एक सोफे पर बैठी हुई थी तब मेरे मामा के लड़के ने उसे गले लगाया और उसके होटो को चूमा | मै एक कमरे से ये देख रहा था | फिर कुछ समय के बाद मैंने वो देखा जिसकी वजय से मेरे पैर के निचे से जमीन निकल गयी | फिर कुछ समय के बाद उस पुणे वाले लड़के ने उस लड़की के दूद को दबाना शुरु कर दिया | फिर जो हुआ उस देखकर मै चकित रह गया | फिर मेरे मामा का लड़का और उस पुणे वाला उसका मित्र उस लड़के के उपर चड गए और उसकी चुदाई करने लगे | ये वजय थी की मेरा मामा का लड़का अब उसकी मा तक को चोदने लगा था |


Share on :